cher ke baha doo

cher ke baha doo

cher ke baha doo lahoo dushman ke sene ka
yahi to maja hai fauji banakar jene ka
चीर के बहा दू लहू दुश्मन के सीने का
यही तो मजा है फौजी बनकर जीने का

Army Shayari