Haa Mujhe Rasm

haa mujhe rasm

Haan Mujhe Rasm-e-Mohabbat Ka Saleeka Hi Nahi Ja Kisi Aur Ka Hone Ki Ijazat Hai Tujhe.
हाँ मुझे रस्म-ए-मोहब्बत का सलीक़ा ही नहीं
जा किसी और का होने की इजाज़त है तुझे.
v Tum Laut Ke Aane Ka Takalluf Mat Karna
Hum Ek Mohabbat Ko Do Baar Nahi Karte.
तुम लौट के आने का तकल्लुफ मत करना
हम एक मोहब्बत को दो बार नहीं करते.

Monday Quotes