Poetry on Hindi

waqt nikal jane ke

waqt nikal jane ke baad jo kadar
hoti hai vo kadar nhi afsos hota hai.
वक़्त निकल जाने के बाद जो कदर
होती है वो कदर नहीं अफसोस होता है।

bahut jaruri nahin hoon main
magar mere bagair kuchh kami jarur rahegi .
बहुत ज़रूरी नहीं हूं मैं
मगर मेरे बगैर कुछ कमी ज़रूर रहेगी।

sacchi mohabbat mein ek usool hota hain
mahaboob dil bhi dukhaye to qubool hota hain
सच्ची मोहब्बत में एक उसूल होता हैं
महबूब दिल भी दुखाये तो कुबूल होता हैं।

Hindi Poetry