humse kya khaak

humse kya khaak

humse kya khaak uljhega zamana
hum to ishq kar khud ko waise hi uljhaye hai toh hai
हमसे क्या ख़ाक उलझेगा ज़माना
हम तो इश्क़ कर खुद को वैसे ही उलझाये है तोह है

Read More