Dard Bhari Shayari

Dard Bhari Shayari: dard bhari shayari When there is a tremendous pain in someone's heart, these emotions come out in the form of dard shayari. dard bhari shayari hindi mai, dard bhari shayari in hindi, dard bhari shayari in hindi 160, dard bhari shayari english, dard bhari shayari hindi mein, dard bhari shayari in hindi for girlfriend, sabse dard bhari shayari, dard bhari shayari in hindi with images and best dard shayari.

sache aashiq hai hum

gam bhari shayari photo download

tere aise sache aashiq hai hum
dil me jiske pyar na ho kabhi kum
sache pyar me to zindagi mehak jati hai
na jane hmari aankhe kyu hai nam

तेरे ऐसे सच्चे आशिक़ है हम
दिलमे जिसके प्यार न हो कभी कम
सच्चे प्यार में तो ज़िन्दगी महक जाती है
ना जाने हमारी आँखे क्यों है नम

tumko lekar mera khyaal

dard bhari photo

tumko lekar mera khayal nahi badlega
saal badlega magar dil ka haal nahi badlega
तुमको लेकर मेरा ख्याल नही बदलेगा
साल बदलेगा मगर दिल का हाल नहीं बदलेगा

jakham hi dena to pura jism tere huwale tha
beraham tune waar kiya wo bhi dil hi waar kiya
जख्म ही देना तो पूरा जिस्म तेरे हवाले था
बे रहम तूने वार क्या वो भी दिल ही वार क्या

nzar aur naseeb me

dard bhari shayari photo download

nzar aur naseeb me bhi kya ittefaq hai
nazar use hi psand karti hai jo nasheeb me nhi hota
नज़र और नसीब में भी क्या इत्तफ़ाक़ है
नज़र उसे ही पसंद करती है जो नसीब में नही होता

kal raat wo shaks mere khuwabo ka bhi katal kar gaya
log kitna muqaam rakhte hai chod jane ke baad
कल रात वो शख्स मेरे खवाबो का भी काटल कर गया
लोग कितना मुक़ाम रखते है छोड़ जाने के बाद

mohabbat ki kahani likhna

dard bhari shayari in hindi photo download

kitna mushkil hai mohabbat ki kahani likhna
jaise pani se pani pe pani likhna
कितना मुश्किल है मोहब्बत की कहानी लिखना
जैसे पानी से पानी पे पानी लिखना

milta bhi nahi tumhare jaise is saher man
humko kya maloom tha ki tum bhi kisi aur ke ho
मिलता भी नहीं तुम्हारे जैसे इस शहर में
हमको क्या मालूम था के तुम भी किसी और के हो

mere dard ki kahani

gam shayari photo

bhut zuda hai auron se mere dard ki kahani
zakhm ka koi nishan nahi aur dard ki koi intha nhi
बहुत जुदा है औरों से मेरे दर्द की कहानी
ज़ख्म का कोई निशान नहीं और दर्द की कोई इंतहा नही

wo mujhe se bichda to jaise bichad gayi zindgi
main zinda to hoon par zinda nahi raha
वो मुझे से बिछड़े तो जैसे बिछड़ गयी ज़िन्दगी
मैं ज़िंदा तो हूँ पर ज़िंदा नहीं रहा

koi marta nahi kisi le liye

gam bhari shayari photo

koi marta nahi kisi le liye ye sach hai
magar ye sach hai koi mar mar ke jeeta hai kisi ke liye
कोई मरता नहीं किसी ले लिए ये सच है
मगर ये सच है कोई मर मर के जीता है किसी के लिए

abhi masroof hoon kafi fursat mein sochenge tumhe
ke tujhe yaad rakhne main kya kya bhule hai hum
अभी मसरुफ हूँ काफी फुर्सत में सोचूंगा तुम्हे
के तुझे याद रखने में क्या क्या भूले है हम

tum bhi musafir ban jaoge

dard bhari shayari pic

mohabbat chor kar har ek zurm kar lena
warna tum bhi musafir ban jaoge tanha raaton ke
मोहब्बत छोड़ कर हर एक जुर्म कर लेना
वरना तुम भी मुसाफिर बन जाओगे तनहा रातों के

bhul jana to duniya ka rasam hai dost
tumne bhula diya to kon ka kamaal kar diya
भूल जाना तो दुनिया का रसम है दोस्त
तुमने भुला दिया तो कोण का कमाल कर दिया

hum ko aata hai dil me

dard shayari image

hum kahin jayenge bana lenge jagah apne liye
hum ko aata hai dil me utar jana
हम कहीं जायेंगे बना लेंगे जगह अपने लिए
हम को आता है दिल में उतर जाना

chand ke roop main aate hi nahi tum
gum ki raaton main azab jans bahar hota
चाँद के रूप में आते ही नहीं तुम
गम की रातों मैं अज़ाब जनस बहार होता

agar bikne pe aa jau

dard bhari shayari image

agar bikne pe aa jau to ghat jate hai daam aksar
na bikne ka irada ho to kimat aur badhti hai
अगर बिकने पे आ जाओ तो घट जाते है दाम अक्सर
न बिकने का इरादा हो तो कीमत और बढ़ती है

wo bewafa yun hi badnaam ho gya
Hazaron chahne wale the kis kis se pyar karta
वो बेवफा यूँ ही बदनाम हो गया
हजारो चाहने वाले थे किस किस से प्यार करता

masrufiyat me aati hai

dard bhari shayari photo

Masrufiyat Me Aati Hai Behad Tumhari Yaad
Fursat Me Teri Yaad Se Fursat Nahi Milti
मसरूफियत में आती है बेहद तुम्हारी याद
फुर्सत में तेरी याद से फुरसत नहीं मिलती

saaki ko gila hai ke bikti nahi sharaab
aur ek naam hai ke hosh min aane nahi deta
साकी को गिला है के बिकती नहीं शराब
और एक नाम है के होश में आने नहीं देता