mujhe tujhse nahi tere

mujhe tujhse nahi tere

mujhe tujhse nahi tere andar baithe rab se hai
tum to bas jariya hai meri ibadat ka
मुझे तुझसे नहीं तेरे अंदर बैठे रब से है
तुम तो बस जरिया है मेरी इबादत का

Read More