Gam Bhari Shayari 2022

sache aashiq hai hum

tere aise sache aashiq hai hum
dil me jiske pyar na ho kabhi kum
sache pyar me to zindagi mehak jati hai
na jane hmari aankhe kyu hai nam

तेरे ऐसे सच्चे आशिक़ है हम
दिलमे जिसके प्यार न हो कभी कम
सच्चे प्यार में तो ज़िन्दगी महक जाती है
ना जाने हमारी आँखे क्यों है नम

rota wahi hai jisne kadr kiya ho sacha rishta ko
matlab pe rishte rakhne walo ko koyi rula nhi sakta
रोता वही है जिसने कद्र किया हो सच्चा रिश्ता को
मतलब पे रिश्ते रखने वालो को कोई रुला नहीं सकता

Dard Bhari Shayari