Mohabbat Shayari

mohabbat shayari, mohabbat ki shayari, mohabbat shayari in hindi, mohabbat shayari sms, pyaar shayari, pyar bhari shayari, pyar ki shayari, shayari pyar ki, pyar bhari shayari hindi

apne ki chahto

Mohabbat Ki Shayari

apne ki chahto ne diya kuch aesa fareb
ki rote rhe lipatkar har ek aznabi se hum
अपने की चाहतों ने दिया कुछ ऐसा फ़रेब
की रट रहे लिपटकर हर एक अजनबी से हम

hmare rone ki

Mohabbat Shayari In Hindi

hmare rone ki wzah wo hi kyu banta hai
jis par hum sabsejyada bharosha karte hai
हमारे रोने की वजह वो ही क्यों बनता है
जिस पर हम सबसेज्यादा भरोषा करते है

jaab koi kisi kaa

Mohabbat Shayari SMS

jaab koi kisi kaa sath chorta hai
to aankh nhi dil bhi rota hai
जब कोई किसी का साथ छोड़ता है
तो आँख नही दिल भी रोता है

agr koi ladka kisi

Pyar Bhari Shayari

agr koi ladka kisi ladki ke liye rota hai
to samajh lo usse jyada pyaar use aur koi nhi kar sakta
अगर कोई लड़का किसी लड़की के लिए रोता है
तो समझ लो उससे ज्यादा प्यार उसे और कोई नहीं कर सकता

bhut si baaten hai

Pyar Ki Shayari

bhut si baten hai dil me bas kabhi koi aisa nahi mila jisse dil ki baat kar lu
बहुत सी बातें है दिल में बस कभी कोई ऐसा नहीं मिला जिससे दिल की बात कर लू

galtiya ho agar

Shayari Pyar Ki

galtiya ho agar to likhne me gaur na karna
tum bas mere zazbaat padh lena
गलतिया हो अगर तो लिखने में गौर न करना
तुम बस मेरे जज़्बात पढ़ लेना

kitna accha lagta

Pyar Bhari Shayari Hindi

kitna accha lagta hai na jab koi humse bhi zyada humari fikar karta hai
कितना अच्छा लगता है न जब कोई हमसे भी ज़्यादा हमारी फ़िक्र करता है

kisi ko bhi apna

Mohabbat Bhari Shayari

kisi ko bhi apna bnane ka hunar hai tum me
kaash kisi ka bankar rahne ka hunar bhi hota
किसी को भी अपना बनाने का हुनर है तुम में
काश किसी का बनकर रहने का हुनर भी होता

intzaar bas wahi

Pyaar mohabbat Shayari

intzaar bas wahi kar sakta hai
jiski mohabbat sacchi ho
इंतज़ार बस वही कर सकता है
जिसकी मोहब्बत सच्ची हो

rha nhi jata ab

Pyaar Mohabbat Shayari

rha nhi jata ab tere deedar ke bina
zindagi adhuri hai meri tere pyar ke bina
रहा नही जाता अब तेरे दीदार के बिना
ज़िन्दगी अधूरी है मेरी तेरे प्यार के बिना