Sad Love Shayari

sad love shayari,sad love shayari images, sad love shayari in hindi,new sad love shayari,latest sad love shayari,best sad love shayari,sad love shayari in hindi

time time ki baat hai

time time ki baat hai

time time ki baat hai jo kal tak i love u bola karati thi
aaj unake paas riplay karane ka bhi taime nahi hai
टाइम टाइम की बात है जो कल तक आई लव यूं बोला करती थी
आज उनके पास रिप्लाई करने का भी टाइम नहीं है

yoon chehare par udasi

yoon chehare par udasi

yoon chehare par udasi na audiye saaheb
waqt jarur takleef ka hai lekin katega muskurane se
यूं चेहरे पर उदासी ना आओडीए साहेब
वक़्त जरूर तकलीफ का है लेकिन कटेगा मुश्कुराने से

waqt ka khas hona jaroori

waqt ka khas hona jaroori

waqt ka khas hona jaroori nahi khaas logon ke ke liye
waqt hona jaroori hai
वक़्त का खास होना जरूरी नही खास लोगों के के लिए
वक़्त होना जरूरी है

na fark pada tha unhe

na fark pada tha unhe

na fark pada tha unhe aur na hi padega
house to saath mein the magar rona akele hi padega
ना फर्क पड़ा था उन्हें और न ही पड़ेगा
हुसे तो साथ में थे मगर रोना अकेले ही पड़ेगा

.
kaash mere bas mein hota

kaash mere bas mein hota

kaash mere bas mein hota aapako bhool jaana
phir ham bhi so jaate aapaki tarah beparavaah hokar
काश मेरे बस में होता आपको भूल जाना
फिर हम भी सो जाते आपकी तरह बेपरवाह होकर

suno kabhi mahafil mein

suno kabhi mahafil mein

suno kabhi mahafil mein tum jo hamaare saath ho jao
zamaana jal jaayega jo tum mujhame kho jao
सुनो कभी महफ़िल में तुम जो हमारे साथ हो जाओ
ज़माना जल जायेगा जो तुम मुझमे खो जाओ

hum dono ko koi bhi

hum dono ko koi bhi

hum dono ko koi bhi bimaari nahin hai
phir bhi vo meree aur main usakee dava hoon
हम दोनों को कोई भी बीमारी नहीं है
फिर भी वो मेरी और मैं उसकी दवा हूँ

mohabbat khud batati hai

mohabbat khud batati hai

mohabbat khud batati hai kha kisaka thikaana hai
kise aankhon mein rakhana hai kisi dil mein bithana hai
मोहब्बत खुद बताती है खा किसका ठिकाना है
किसे आँखों में रखना है किसे दिल में बिठाना है

kis haq se mangu

kis haq se mangu

kis haq se mangu apne hisse ka vaqt aapako
kyun kee na aap mere aur na vaqt mera
किस हक़ से मांगू अपने हिस्से का वक़्त आपको
क्यों की ना आप मेरे और न वक़्त मेरा

rishte kam banaiye

rishte kam banaiye

rishte kam banaiye lekin unhe dil se nibhaye
aksar log behatar kee talaash mein betareen kho dete hai
रिश्ते कम बनाइये लेकिन उन्हें दिल से निभाए
अक्सर लोग बेहतर की तलाश में बेटरीन खो देते है