Whatsapp About Shayari

mohabbat naam hai

mohabbat naam hai jisaka ye aisi kaid hai yaaro
ki umr beet jaati hai saza poori nahin hoti
मोहब्बत नाम है जिसका ये ऐसी कैद है यारो
की उम्र बीत जाती है सज़ा पूरी नहीं होती

kaheen bhi use panaah nahin milati
jisako mohabbat bepanah ho jaaye
कहीं भी उसे पनाह नहीं मिलती
जिसको मोहब्बत बेपनाह हो जाये

Whatsapp Shayari