Mothers Day Shayari

Mothers Day Shayari: (मदर्स डे पर शायरी) Mother Shayari

jannat ka har lamha

jannat ka har lamha

jannat ka har lamha didar kiya tha
god mein uthakar jab maa ne pyaar kiya tha
जन्नत का हर लम्हा दीदार किया था
गोद में उठाकर जब मां ने प्यार किया था

saare jahaan mein nahin milata beshumaar itana
sukoon milata hai maan ke pyaar mein jitana
सारे जहां में नहीं मिलता बेशुमार इतना
सुकून मिलता है माँ के प्यार में जितना

maangane par jahaan poori har mannat hoti hain
maan ke pairon mein hi to vo jannat hoti hai
मांगने पर जहां पूरी हर मन्नत होती हैं
माँ के पैरों में ही तो वो जन्नत होती है

upar jiska ant nahi

upar jiska ant nahi

upar jiska ant nahi use aasman kahate hain
jahaan mein jiska ant nahi use maa kahate hain
ऊपर जिसका अंत नहीं उसे आसमां कहते हैं
जहां में जिसका अंत नहीं उसे माँ कहते हैं

ab bhi chalati hai jab aandhi kabhi gam ki
maan ki mamata mujhe baahon mein chhoopa leti hai
अब भी चलती है जब आंधी कभी गम की
माँ की ममता मुझे बाहों में छूपा लेती है

maan sar par jo haath phaire to himmat mil jae
maan ek baar muskura de to jannat mil jae
माँ सर पर जो हाथ फैरे तो हिम्मत मिल जाए
माँ एक बार मुस्कुरा दे तो जन्नत मिल जाए

sawarne ki kaha use

sawarne ki kaha use

sawarne ki kaha use fursat hoti hai
maa phir bhi bahut khoobasoorat hoti hai
सवरने की कहाँ उसे फुर्सत होती है
माँ फिर भी बहुत खूबसूरत होती है

ham khushiyon mein bhale hi bhool jae maan ko
lekin jab musibat aati hai to yaad aati hai maa
हम खुशियों में भले ही भूल जाए माँ को
लेकिन जब मुसीबत आती है तो याद आती है माँ

maa se door hone par aasoon chhalak hi jaate hai
chaahe jitana chhoopa ke rakho maan ko najar aa hi jaate hai
माँ से दूर होने पर आसूं छलक ही जाते है
चाहे जितना छूपा के रखो माँ को नजर आ ही जाते है

maa sabki jagah

Mothers Day Shayari

maa sabki jagah le sakti hai lekin
maa ki jagah koi nhi le sakta
माँ सबकी जगह ले सकती है लेकिन
माँ की जगह कोई नहीं ले सकता

सबकुछ मिल जाता है दुनिया में मगर
याद रखना की बस माँ-बाप नहीं मिलते
मुरझा कर जो गिर गए एक बार डाली से
ये ऐसे फूल हैं जो फिर नहीं खिलते

Rooh Ke Rishto Ki Yeh Gehraiyan To Dekhiye
Chot Lagti Hai Humein Aur Chillati Hai Maa
Hum Khushiyon Mein Maa Ko Bhale Bhi Bhool Jayein
Jab Musibat Aa Jaye Toh Yaad Aati Hai Maa.

bas ek maa hi hai

Shayari on Mother in Hindi

labo pe uske kabhi baddua nahi hoti
bas ek maa hi hai jo kabhi khafa nahi hoti
लबों पे उसके कभी बद्दुआ नहीं होती
बस एक माँ ही है जो कभी खफा नहीं होती

Uske Hontho Pe Kabhi Bad-Dua Nahi Hoti
Bas Ek Maa Hai Jo Kabhi Khafa Nahi Hoti
उसके होंठों पे कभी बद्दुआ नहीं होती
बस इक माँ है जो कभी खफा नहीं होती

Kisi Ko Ghar Mila Kisi Ke Hisse Mein Dukan Aayi
Main Ghar Mein Sabse Chhota Tha Mere Hisse Mein Maa Aayi.
किसी को घर मिला हिस्से में या कोई दुकान आई
मैं घर में सबसे छोटा था मेरे हिस्से में माँ आई