khud ko badnaam

khud ko badnaam

khud ko badnaam hone ka bhi mauka dijiye
varna zindagi ka ek hissa jeena chhoot jaega
ख़ुद को बदनाम होने का भी मौक़ा दीजिए
वरना ज़िंदगी का एक हिस्सा जीना छूट जाएगा

Hindi Poetry